हिन्दी

सर्वनाम - सम्पूर्ण नोट्स ( हिन्दी व्याकरण )

सर्वनाम - सम्पूर्ण नोट्स ( हिन्दी व्याकरण )

संज्ञा की भाँति सर्वनाम भी एक विकारी शब्द है। यहाँ विकार का अर्थ है- परिवर्तन या बदलाव। सर्वनाम में यह परिवर्तन या बदलाव वचन तथा कारक के कारण होता हैं। परन्तु ध्यान रहे कि लिंग के कारण सर्वनाम का रुपान्तरण नहीं होता हैं।
Read More
वाक्यांश के लिए एक शब्द

वाक्यांश के लिए एक शब्द

वाक्यांश के लिए एक शब्द को अनेक शब्दों के लिए एक शब्द के नाम से भी जाना जाता हैं। इसके प्रयोग से भाषा प्रवाह मय एवं प्रभावशाली बनाती है इसका प्रयोग सार, संक्षेपण, पत्र लेखन इत्यादि जगहो पर किया जाता हैं
Read More
विशेषण - सम्पूर्ण नोट्स ( हिन्दी व्याकरण )

विशेषण - सम्पूर्ण नोट्स ( हिन्दी व्याकरण )

संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्द को विशेषण कहते हैं। विशेषण एक विकारी शब्द है। जिस शब्द के साथ विशेषण का प्रयोग यह किया जाता हैं उसके अर्थ को सीमित या कम कर देता है। विशेषण का प्रयोग सकारात्मक या नकारात्मक दोनों रुपों में किया जाता हैं। विशेषण जिज्ञाषाओं को शांत करने में भी काम आता हैं।
Read More
संज्ञा और संज्ञा के भेद ( हिन्दी व्याकरण )

संज्ञा और संज्ञा के भेद ( हिन्दी व्याकरण )

किसी वस्तु, व्यक्ति या स्थान के नाम को संज्ञा कहते हैं। संज्ञा एक विकारी शब्द है। यहाँ विकार का अर्थ परिवर्तन या बदलाव से है। संज्ञा मे यह परिवर्तन या बदलाव लिंग, वचन, तथा कारक के अनुसार होता हैं।
Read More
वर्तनी ( हिन्दी व्याकरण )

वर्तनी ( हिन्दी व्याकरण )

वर्तनी का अर्थ है- वर्ण विन्यास किसी भाषा का कोई सार्थक शब्द जिस वर्णानुक्रम में लिखा जाता हैं उसे वर्तनी कहते हैं वर्तनी को अंग्रेजी में Spelling तथा उर्दू में हिज्जे के नाम से जाना जाता हैं।
Read More